Nek In India - Positive News, Happy Stories and Inspiring People. Ishan Malhotra का innovation, किसानों को कर रहा है उनकी खेती से connect - Nek In India

Ishan Malhotra का innovation, किसानों को कर रहा है उनकी खेती से connect

देखा जाए तो, Ishan Malhotra किसी हाइ स्कूल स्टूडेंट की तरह ही हैं, जो कि science और innovation को लेकर काफ़ी passionate है| Papier mache guns से remote-controlled drones तक, Ishan ने जयपुर स्कूल में पढ़ते हुए ऐसे अलग-अलग devices बनाने में अपना हाथ आज़माया है|

Ishan Malhotra
Photo : youtube

हालांकि, जयपुर में जयश्री पेरीवाल इंटरनेशनल स्कूल के क्लास XI के स्टूडेंट Ishan Malhotra ने Pluto नाम के device बनाकर अपने innovation के passion को एक नया मुकाम दिया है, इससे किसान अपने water pumps को अपने फोन-यहां तक कि बेसिक मोबाइल फोन और लैंडलाइन से भी कनेक्ट कर सकते हैं|

एक बार कनेक्ट होने के बाद, ये डिवाइस किसानों को दूरस्थ रूप से water pump को control करने में मदद करता है।

Ishan Malhotra
Photo : internet

ये सब तब शुरू हुआ जब Ishan Malhotra, जयपुर जिले के एक छोटे से गांव सिरसा में अपनी दादी के पुराने घर गये| वहां उन्होनें स्थानीय लोगों, किसानों और बच्चों के साथ काफ़ी वक़्त बिताया| उन लोगों ने Ishan को रोज़ाना होने वाली कुछ परेशानियों के बारे में बताया। उनमें से सबसे बड़ा था water management

उन्होंने Ishan को बताया कि हर दिन, एक किसान या उसके बेटे या बेटी को सुबह 5:00 बजे उठना पढ़ता है और water pump चालू करने के लिए दूर खेतों तक जाना पड़ता है| वो लोग रोज़ अपनी energy और time बर्बाद कर रहे थे, तब Ishan को लगा कि उनकी मदद करने के लिए कुछ करने की जरूरत है|

Pluto को बनाना, हालांकि, technological और logistical challenges का हिस्सा था।

Ishan Malhotra
Photo : digit.in

Ishan कहते हैं कि उन्हें उन capacitors को ढूंढना पड़ा जो अलग-अलग मात्रा में बिजली आने पर जलते नहीं हैं और एक ऐसा mobile connection जो कि दूरदराज के गाँवों में भी नेटवर्क receive करता हो| चूंकि गांव में कुछ पंप triple phased होते हैं और बाकि single या double phased होते हैं, उन्हें सोचना था कि किस तरह के components का वो इस्तेमाल करेंगे| उन्होनें इन समस्याओं को कई hits और misses के बाद solve कर लिया| End में, उन्हें ना केवल एक concrete solution मिला, बल्कि उन्होनें process के दौरान बहुत कुछ सीखा|

शुरूवात में, इशान ने एक prototype बनाया और अपनी दादी के घर पर device को test किया। हालांकि, Ishan को पता था कि अगर वह किसी और किसान की जमीन पर अपने product को test करेंगे, तो उसे किसी भी glitches के बिना अच्छी तरह से काम करना होगा, वरना कुछ लोग इस new technology का विरोध भी कर सकते हैं| इस तरह, बहुत सारे trial और error के बाद, Ishan Pluto के एक version के साथ आया, जिसे वो आसपास के गांवों में भी test के लिए ले गया|

Ishan Malhotra
Photo : internet

Ishan कहते हैं कि जब उन्होनें अपनी दादी के गांव में इसका test किया, तो किसान अभी भी इसे अपनाने करने में संकोच कर रहे थे। इसलिए, इस issue को दूर करने के लिए, उन्होनें सबसे पहले सरपंच (village head) के घर में Pluto install किया| लोगों ने जब सरपंच को ये इस्तेमाल करते हुए देखा, तो वो लोग भी product में विश्वास करने लगे| जब उन्होनें device distribute करने सोचा तो language barrier भी था। उन्हें advertise और project गाँव वालों तक पहुँचने के लिए locals, electricians और youths की मदद लेनी पड़ी|

अपने device के साथ आस-पास के गांव में भी किसानों के पास जाना आसान काम नहीं था। कुछ गांवों में पंप थे जिनपर proper switchboard नहीं था। इसलिए, उन्हें उनके तार काटने पड़े और Pluto से जोड़ने के लिए दूसरा तार बनाना पड़ा| कुछ जगहों पर, किसान newer technology को अपनाने के लिए तैयार नहीं थे| उन्हें अलग-अलग जगहों पर अलग-अलग problems का सामना करना पड़ा|

Ishan Malhotra
Photo : internet

Challenges के बावजूद, Ishan Malhotra को अपने devices का test करने वाले किसानों से glowing responses मिले हैं| कुछ तो अपने रिश्तेदारों के पास भी गये ताकि वो भी इसे खरीद सकें। महिलाओं और बुजुर्ग सदस्यों को, जिन्हें Pluto का इस्तेमाल करके पंप को चालू और बंद करने का काम दिया जाता है, अब रोज़ घर के कामों में भी हाथ बँटाते हैं|

#NekInIndia

(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )

(Visited 33 times, 1 visits today)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Facebook

SuperWebTricks Loading...
%d bloggers like this: