Nek In India - Positive News, Happy Stories and Inspiring People. Visually challenged Akshay ने WhatsApp voice notes से पूरी की पढ़ाई - Nek In India

Visually challenged Akshay ने WhatsApp voice notes से पूरी की पढ़ाई

व्हाट्सएप ग्रूप पर अपने दोस्तों द्वारा शेयर किए गए वॉयस नोट्स ने तमिलनाडु के डॉ अम्बेडकर लॉ यूनिवर्सिटी के एक visually challenged बच्चे Akshay Kumar को पांच साल की डिग्री को पास करने में मदद की है।

कानून और वाणिज्य में पांच साल के इंटेग्रेटेड कोर्स के फाइनल यियर के 22 साल के स्टूडेंट अक्षय कुमार, अपने दोस्तों को अपनी सफलता का श्रेय देते हैं, जिन्होंने उनके द्वारा सामना की जाने वाली प्रॅक्टिकल डिफिकल्टीस के बाद इसकी पहल की।

स्कूल में रहते हुए, किताबों में कम पेज थे और सॉफ़्टवेयर (कुर्ज़वेइल) के लिए टेक्स्ट को स्पीच में बदलना आसान था। लॉ स्कूल में पेज की संख्या ज़्यादा होने के कारण स्कैनिंग थकाऊ थी| अक्षय ने बताया, जिन्होंने VI क्लास में पूरी तरह से अपनी नजर खो दी थी। जन्म के बाद से ही लक्षण थे, लेकिन जब तक चीजों को सही किया जा सकता था, तब तक बहुत देर हो चुकी थी।

Akshay Kumar
Photo : thehindu.com

चेन्नई के एक सरकारी स्कूल में टीचर उनकी मां, K Selvakumari के प्रौद्योगिकी और पूर्ण समर्थन ने Akshay को उड़ान रंगों के साथ अपनी स्कूल परीक्षाओं में आने में मदद की। उन्होंने अपनी सीबीएसई 12th क्लास के एग्ज़ॅम्स में 92% मार्क्स हासिल किया| पाठ्यपुस्तकों को स्कैन करने और उन्हें ऑडियो फ़ाइलों में परिवर्तित करने से लेकर जीयोमीट्रिकल डिज़ाइनों को समझाने के लिए चार्ट पर मैच-स्टिक का उपयोग करने तक, Selvakumari ने उसका तब तक साथ दिया जब तक कि उनके बेटे ने स्कूल पूरा नहीं किया।

जब Akshay लॉ यूनिवर्सिटी में गए, तो उसके दोस्तों ने ये भूमिका निभाई, जिन्होंने वॉयस नोट्स की मदद से पिछले पांच सालों से हॅंड-आउट्स के सिनॉपसिस और एग्ज़ॅम प्रेपरेशन मेटीरिया के सारांश को निरंतर भेजा। उनकी माँ ने कहा कि Akshay को उनके जैसे दोस्त मिलना किसी गिफ्ट से कमी नहीं है| वे अब तक धीरज रखते हैं और बहुत मददगार हैं| अपने फाइनल सेमेस्टर रिज़ल्ट्स का इंतज़ार करते हुए अक्षय ने अब तक 71% का अग्रिगेट बनाए रखा है|

Akshay Kumar का लॉ में पोस्ट ग्रॅजुयेशन करने का प्लान बनाया है और फिर वो सिविल सेवा परीक्षाओं के लिए अपीयर होंगे| हालांकि, लॉ पांच साल पहले तक अक्षय के दिमाग में नहीं था। वो एक म्यूज़िक स्कूल शुरू करना चाहता था। वो अभी भी ऐसा करना चाहता है| मुझे उम्मीद है कि मैं अंततः ऐसा करूँगा, ए आर रहमान के प्रशंसक ने कहा, जिन्होंने लंदन के ट्रिनिटी कॉलेज से कीबोर्ड के लिए ग्रेड -4 परीक्षाओं को पास किया है। Akshay का पसंदीदा सॉंग टाइटैनिक का ‘My heart will go on’ है, जिसे वह अक्सर सुनते हैं, लेकिन वह गीत जो उनकी कहानी में सबसे अच्छी तरह से फिट होता है, वो है बीटल्स का ‘I get by with a little help from my friends’

#NekInIndia

(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )

Facebook Comments
(Visited 36 times, 1 visits today)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Facebook

SuperWebTricks Loading...
%d bloggers like this: