Nek In India - Positive News, Happy Stories and Inspiring People. Dr.Rameshwar Prasad भर रहे हैं लड़कियों के सपनों में जान - Nek In India

Dr.Rameshwar Prasad भर रहे हैं लड़कियों के सपनों में जान

Dr.Rameshwar Prasad Yadav इन दिनों सोशल मीडीया पर खूब सुर्खियाँ बटोर रहे हैं| और ऐसा हो भी क्यों ना, उन्होनें लड़कियों की पढ़ाई के लिए बेहद खूबसूरत काम जो किया है| जी हाँ, Rameshwar Prasad ने अपने PF( Provident Fund) के पैसों से ‘निःशुल्क बेटी वाहिनी‘ नाम से एक बस खरीदी है| इस बस का मकसद लड़कियों को सही समय और सुरक्षित उनके कॉलेज पहुँचाना है| इस बस ने राजस्थान से सीकर ज़िले की लड़कियों को सुरक्षा के एहसास के साथ-साथ उनके सपनों को उड़ान भी दी है|

Dr. Rameshwar Prasad Yadav
Photo : timesofindia.indiatimes.com

राजस्थान के Dr.Rameshwar Prasad एक बाल रोग विशेषज्ञ (Pediatrician) हैं| एक बार वो पत्नी के साथ कार में कहीं जा रहे थे, जब उनकी नज़र बारिश में भीगती कुछ लड़कियों पर पड़ी, जिन्हें कुछ लड़के छेड़ रहे थे| तब उनकी पत्नी ने उन लड़कियों को कार में लिफ्ट दी| लड़कियों से बात करने पर उन्हें पता चला कि वो लोग रोज़ 4 से 5km पैदल चलकर बस-स्टॉप तक जाती हैं और वहाँ से फिर कॉलेज के लिए बस पकड़ती हैं|

nishulka beti vahini’
Photo : timesofindia.indiatimes.com

लड़कियों की परेशानी सुनने के बाद ही Dr.Rameshwar Prasad और उनकी पत्नी Tarawati ने उनके लिए कुछ करने का सोचा| उन्होनें अपने PF से 19 लाख रुपये निकालकर एक बस खरीदी| सूत्रों के मुताबिक, उन्होनें उस बस को ‘निःशुल्क बेटी वाहिनी‘ नाम से शुरू किया| 40 सीटों वाली ये बस सिर्फ़ लड़कियों के लिए है| अभी तक 62 लड़कियाँ इस बस-सर्विस के लिए रिजिस्टर कर चुकी हैं| फिलहाल, सरकार की मदद के बगैर ही उन्होनें ये काम अकेले किया है|

Dr. Rameshwar Prasad Yadav
Photo : timesofindia.indiatimes.com

उन्होनें बस के ड्राइवर को ऐसे ट्रेंड किया है कि वो किसी भी आदमी को बस में बैठने की इजाज़त नहीं देता है| यहाँ तक की खुद Dr.Rameshwar Prasad को भी नहीं| उनके मुताबिक, एक बार लड़कियों को बस से ले जाते वक़्त ड्राइवर ने उन्हें रास्ते में बस में बिठाने से ignore किया था, उस दिन खुश होकर उन्होनें ड्राइवर को 100 रुपये दिए थे|

Dr. Rameshwar Prasad Yadav
Photo : timesofindia.indiatimes.com

Dr. Yadav हर महीने इस बस को चलाने में 36,000 रुपये खर्च करते हैं| , जिसमें डीजल से लेकर ड्राइवर और कंडक्टर की सॅलरी भी जुड़ी है| इसके अलावा वो हर महीने 5 हज़ार रुपये रोड-टेक्स भी भरते हैं|

एक साल हो चुकी इस बस ने लड़कियों के सपनों को यक़ीनन ही एक नयी उड़ान दी है|

#NekInIndia

(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )

Facebook Comments
(Visited 60 times, 1 visits today)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Facebook

SuperWebTricks Loading...
%d bloggers like this: