Nek In India - Positive News, Happy Stories and Inspiring People. घर-घर जाकर अपना समान बेचने वाले ने Kerala flood victims को बाँटे कंबल - Nek In India

घर-घर जाकर अपना समान बेचने वाले ने Kerala flood victims को बाँटे कंबल

Sharing इंसान के अंदर courage लाता है| खासकर तब, जब आप किसी को वो सब देते हो जो आपके पास है| मध्य प्रदेश के Vishnu Kachhawa, जो Kerala के कन्नूर के Iritty में घर-घर जाकर blankets बेचते हैं, सोशल मीडिया पर रातों-रात एक स्टार बन गये हैं|

Kerala
Photo : english.manoramaonline.com

इसका कारण किसी को भी आश्चर्यचकित कर देगा| असल में उन्होनें अपने blankets का पूरा stock, Mangad के Adichukootti Government School में लगे flood-relief camp में दान कर दिया है| Vishnu के मुताबिक उस जगह को उनका ये tribute है, जो पिछले 12 सालों से उन्हें livelihood दे रही है| जहाँ Kerala के 8 से भी ज़्यादा ज़िले बारिश के पानी से भरे हुए हैं, ये migrant laborer केरला वालों के लिए मुस्कान की वज़ह बन रहा है|

28 साल के Vishnu, मध्य-प्रदेश के उज्जैन डिवीजन के नीमूच डिस्ट्रिक्ट से हैं| पाँच भाई-बहनों में चौथे Vishnu, तब Kerala आए जब वो सिर्फ़ 16 साल के थे|
वो अपनी पत्नी कुमकुम और दो बच्चों के साथ Iritty, कन्नूर में रहते हैं| उनका कहना है कि Kerala उनका second home है| Kerala ने उन्हें सबकुछ – रहने के लिए जगह, उनकी फैमिली और बच्चों को पालने के लिए रोज़ी-रोटी और अच्छा climate दिया है| उन्होनें कहा कि वो पहली बार Kerala को इतने दुख में देख रहे हैं|

Vishnu Kachhawa
Photo : english.manoramaonline.com

Vishnu, हरियाणा के पानीपत से अपने कंबल खरीदते हैं और अपने 4 partners के साथ इसे Kerala लाते हैं| वो stock को आपस में बाँट लेते हैं और घरों, गवर्नमेंट ऑफिसस, बैंक्स आदि में उसे बेचते हैं| 10 अगस्त को Vishnu, 50 blankets अपने कंधे पर रखकर, अपनी usual destinations में से एक Iritty Taluk office गया| लेकिन उस दिन वहाँ के डेप्युटी तहसीलदार Lakshmanan ने उसे ख़राब मौसम और बाड़ आने की संभावना बताते हुए, landslides की वजह से flood-affected areas में ना जाने की सलाह दी|

Vishnu ने ऑफीसर से flood-affected लोगों की camping की जगह पूछी| Lakshmanan ने उसे flood-relief camps में हो रही दिक्कतों के बारे में बताया| लेकिन उसने कहा कि वो लोगों को blankets donate करना चाहता है|

Lakshmanan ने बताया कि उनको लगा कि Vishnu मज़ाक कर रहा है| इसलिए उन्होनें उससे पूछा की अगर वो सब कंबल donate कर देगा तो कमाएगा क्या? लेकिन Vishnu अपनी बात पर अड़ा रहा| वो उसे Adichukootti school ले गये, जहाँ एक नया camp लगा था| वहाँ जाके Vishnu ने अपने blankets लोगों में donate कर दिए|

Vishnu Kachhawa
Photo : english.manoramaonline.com

Vishnu ने कहा कि वो Kerala में बसना चाहते हैं और इस जगह की संस्कृति के साथ घुल जाना चाहते हैं। वो अपना बिज़्नेस भी बढ़ाना चाहते हैं, ताकि उन्हें बोझ लेकर घर-घर ना घूमना पड़े| उनका कहना है कि Keralites ने जब भी उन्हें पैसों की ज़रूरत हुई है, मदद की है| आज उन्हें ज़रूरत है और उनके पास देने के लिए सिर्फ़ blankets हैं, जो वो donate कर रहे हैं|

हालाँकि, Vishnu नहीं जानते थे कि वो रातों-रात Kerala के star बन गये हैं| लेकिन सूत्रों से ये बात पता चलने पर उन्होनें कहा ” बाप रे ! क्या मेरी न्यूज़ viral हो गयी है? आज मेरी पत्नी बहुत खुश होगी”|

#NekInIndia

(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )

Facebook Comments
(Visited 67 times, 1 visits today)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Facebook

SuperWebTricks Loading...
%d bloggers like this: