Nek In India - Positive News, Happy Stories and Inspiring People. पर्यावरण प्रेमी Vishnu Lamba हैं the Tree Man of India - Nek In India

पर्यावरण प्रेमी Vishnu Lamba हैं the Tree Man of India

पर्यावरण को बचाने के लिए हर कोई राय देता है, पर बहुत कम ही लोग हैं जो उसके लिए कुछ करते हैं| लेकिन राजस्थान के रहने वाले Vishnu Lamba ने अपनी पूरी ज़िंदगी इसके नाम कर दी है| पर्यावरण के लिए उनका जुनून इतना ज़्यादा है कि, वो अपनी जान से ज़्यादा पेड़-पौधों के बारे में सोचते हैं| अपनी ज़िंदगी में उन्होनें पर्यावरण के लिए इतने अच्छे काम किए हैं कि लोग भी उनसे प्रेरणा लेते हैं|

Vishnu Lamba
Photo : vishnulamba.com

बचपन से ही पेड़-पौधों से लगाव रखने वाले राजस्थान के टोंक निवासी Vishnu Lamba ने बचपन से ही पेड़ लगाना शुरू कर दिया था| अपने इसी जुनून के कारण आज तक उन्होनें 5 लाख से भी ज़्यादा पेड़ लगाकर उनको बड़ा किया है| इसके अलावा Lamba को राजस्थान में 13 लाख से ज़्यादा पेड़ों को काटने से बचाने का श्रेय भी जाता है| ख़ास बात ये है कि उन्होनें ये काम खुद अकेले ही किया है|

Vishnu Lamba
Photo : shreekalptarusansthan.com

लाखों पेड़ों के लिए अपनी जान देने के लिए तैयार Lamba, पक्षियों और ख़नन के खिलाफ भी काम करते हैं| हर साल गर्मियों में वो पक्षियों के लिए लाखों परिंडे बाँधते हैं| राजस्थान में कई खनन माफियाओं के खिलाफ भी उन्होनें आवाज़ उठाई है| उन्हें Tree Man के नाम से जाना जाता है|

Lamba ने देश को आज़ादी दिलाने वाले क्रांतिकारियों के परिवार वालों से लेकर फिल्म और राजनीति की कई बड़ी हस्तियों से पौधे लगवाए हैं| पेड़ों के लिए अपना परिवार तक छोड़ चुके Vishnu Lamba को पर्यावरण दिवस पर पर्यावरण संरक्षण व संवर्धन के क्षेत्र में अपनी उत्कृष्ट सेवाएं देने के लिए ‘राजीव गांधी पर्यावरण पुरस्कार’ भी दिया गया है|

Vishnu Lamba
Photo : pictaram.com

लंबा ने सिर्फ़ पेड़ ही नहीं लगाए बल्कि ऋग्वेद काल के बाद उन्होनें पहला पर्यावरण-विवाह भी करवाया था| अपने साथ और लोगों को भी जोड़ने के लिए Lamba एक NGO भी चला रहे हैं| Lamba ने अपने NGO कल्पतरु संस्थान के साथ मिलकर पेड़ों की कटाई रोकने के लिए कई घरों के निर्माण-काम को रुकवाया और उन्हें दूसरी जगह पर स्थानांतरित किया है|

Vishnu Lamba
Photo : youtube.com

उनका कहना है कि अगर कोई इंसान अपनी ज़िंदगी में पाँच पेड़ भी नहीं लगाता, तो उसे चिता पर जलने का अधिकार भी नहीं है| वो लगातार लोगों को पेड़ लगाने के लिए प्रेरित कर रहे हैं|

#NekInIndia

(Visited 63 times, 1 visits today)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Facebook

SuperWebTricks Loading...
%d bloggers like this: