Nek In India - Positive News, Happy Stories and Inspiring People. Green Initiative के तहत ट्रेन में चिपकने वाले Reservation Charts पर रोक - Nek In India

Green Initiative के तहत ट्रेन में चिपकने वाले Reservation Charts पर रोक

Ministry of Railways ने एक experimental basis पर 3 महीने के लिए सभी ट्रेनों के reserved coaches पर चिपकाए जाने वाले reservation charts पर रोक लगा दी है| यह स्टेशन्स New Delhi, Hazrat Nizamuddin, Mumbai Central, Mumbai Chatrapati Shivaji Terminus, Chennai Central, Howrah और Sealdah हैं|
Railway zones को दिए गये एक circular में Ministry ने सभी को यह instructions issue करने को कहा है| Vikram Singh, Director (Passenger Marketing), Railway Board ने circular के ज़रिए कहा कि सभी बातों को monitor कर के feedback 2 महीने के बाद ministry तक पहुँच जाना चाहिए, ताकि वह उसपर एक final decision ले सकें|

reservation charts on trains
Source : india.com

इससे green initiative को भी follow कर पाएँगे, जो कि South Western Railway’s Bengauru Division (SBC) ने पेपर पर 60लाख रुपये बचाकर किया है| 8Nov, 2016 से Bengaluru City और Yeshwantpur Railway Stations से शुरू होने वाली सभी ट्रेनों के reserved coaches पर chart चिपकाने पर लगा दी थी| लेकिन berth details को जानने के alternative को ढूँढना ही इसकी शुरूवात का मुख्य कारण था, जिसकी वजह से पैसा राष्ट्रीय-राजकोष में बचा रहेगा|

reservation charts on trains
Source : newsmobilein

SBC’s Senior Divisional Commercial Manager Sridhar Murthy, जिन्होनें इसकी पहल की थी कहा कि उनको लगा कि एक इंसान अपनी confirmed berth status कई और alternatives से भी देख सकता है|
अगर किसी को भी confirmed tickets मिलती हैं तो उस ticket में berth नंबर भी लिखा होता है| एक waitlisted passenger को टिकेट confirm होने के बाद एक SMS भेज सकते हैं| अपना PNR नंबर बता कर 139 की facility से भी यह काम हो सकता है| और तो और SBC ने waitlisted category से confirmed हुई tickets के लिए charts का digital display भी city और Yeshvantpur stations पर लगाया हुआ है| अभी तक उनके पास केवल एक ही complaint आई है|

reservation charts on trains
Source : quora.com

Mr. Murthy ने कहा कि इस काम के लिए division 21लाख रुपये paper और charts चिपकाने के लिए manpower पर लगा रहा है| Green initiative से पेपर को भी बचाया जा सकता है|

Facebook Comments
(Visited 49 times, 1 visits today)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Facebook

SuperWebTricks Loading...
%d bloggers like this: