Nek In India - Positive News, Happy Stories and Inspiring People. बिना किसी Govt. funding के इस IAS Officer ने बनाई 100Km रोड - Nek In India

बिना किसी Govt. funding के इस IAS Officer ने बनाई 100Km रोड

Armstrong Pame St. Stephen’s College,Delhi से graduated हैं और Zeme tribe के पहले IAS Officer हैं| इस नौजवान Naga IAS officer ने बिना किसी government funding के 100Km road बनवा कर Manipur को Nagaland और Assam से जोड़ने का नेक काम किया है|
यह गाँव देश के दूरस्थ कोनों में से है, जहाँ modern life के बारे में सोचना भी बहुत दूर की बात है| लेकिन अब, Manipur गाँव के Tamenglong district के लोग भी Armstrong Pame द्वारा शुरू किए गये modern India के सबसे ambitious road project का हिस्सा बन चुके हैं|

Armstrong Pame
Source : sevendiary.com

Armstrong Pame के द्वारा यहाँ typhoid और malaria जैसी बीमारियों का प्रकोप आया तो लोगों को बड़ी दिक्कतों का सामना करना पड़ा| बिना रोड के पैदल एक मरीज़ को हॉस्पिटल तक ले जाने में 2 दिन लग जाते थे| हज़ारों मरीज़ों को bamboo stretchers से ले जया गया, लेकिन कुछ लोग ही ज़िंदा शहर तक पहुँच पाए| शहरी डॉक्टर्स भी गाँव आने के लिए तैयार नहीं थे|

Armstrong Pame
Source : sevendiary.com

इस problem के solutions के लिए Pame ने अपने डॉक्टर दोस्तों की मदद ली| एक lady doctor तैयार हो गई और उसने 500 मरीजों को ठीक किया और कुछ minor surgeries भी करी| लेकिन Pame जानते थे कि यह असली problem का solution नहीं है| इसलिए उन्होनें खुद road बनाने के बारे में सोचा और अपनी family और well wishers की मदद ली|

Armstrong Pame
Source : www.e-pao.org

लोगों की दुर्दशा देखकर उन्हें बहुत बुरा लगा| August 2012 में उन्होनें Facebook की मदद से fund जुटाना शुरू किया| Charity घर से शुरू होनी चाहिए के ख़्याल से उन्होनें 5लाख रुपये दिए और उनका भाई, जो कि Delhi University में पढ़ा रहा था, उसने 1लाख रुपये की मदद की| साथ ही उनकी माँ ने अपने पति की एक महीने की pension के 5000रु दिए|

Armstrong Pame
Source : armstrongpame.com

Project शुरू करने के लिए शुरूवाती fund तो उन्होनें परिवार वालों से ले लिया, लेकिन यह काम को पूरा करने के लिए कम था| इसलिए उन्होनें social media का सहारा लिया| उन्होनें Facebook की मदद से बहुत बड़ा फंड raise कर लिया|

Armstrong Pame
Source : armstrongpame.com

Donation और volunteers की मदद से road बनाने के लिए, उन्हें Facebook headquarters, California से भी invite किया गया| Public service category में 2012 में उन्हें CNN-IBN Indian of the Year के लिए nominate किया गया| इस 100Km की road को ‘People’s road’ के नाम से जाना जाता है|

(Visited 41 times, 1 visits today)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Facebook

SuperWebTricks Loading...
%d bloggers like this: