Nek In India - Positive News, Happy Stories and Inspiring People. हज़ारों अनाथ बच्चों की माँ हैं Sindhutai Sapkal - Nek In India

हज़ारों अनाथ बच्चों की माँ हैं Sindhutai Sapkal

Sindhutai Sapkal सिर्फ़ एक नाम ही नहीं उससे कहीं ज़्यादा है|68 साल की इस बुड़ी औरत ने अपने कठोर व्यक्तित्व के पीछे बहुत सी कहानियाँ छुपाई हैं|
उर्जा और जुनून भरी सिंधुताई को “अनाथ बच्चों की माँ” कहा जाता है और जब भी वह अपने जीवन और बच्चों के बारे में बताती हैं तो सारा दर्द, कठिनाई और दुख उनके चेहरे पर साफ़ दिखाई देता है और कैसे वह अपनी मेहनत से उन कठिनाइयों से लड़ी यह भी पता चलता है| लेकिन, इसके बावज़ूद उनके चेहरे के भाव आत्मविश्वास से भरे रहते हैं जो कि उनमें इतने सालों में अपनी ज़िंदगी के अनुभवों से आया है|

NII61
एक अनचाही बच्ची होने की वजह से उन्हें घर में सब “छिंढी” बुलाने लगे जिसका मतलब कपड़े का फटा हुआ टुकड़ा होता है|
लेकिन उनके पापा उनको पूरा support करते थे और उनको पढ़ाना भी चाहते थे, लेकिन परिवार की ज़िम्मेदारी और शादी जल्दी हो जाने के कारण वह सिर्फ़ चौथी class ही पढ़ पाईं|

NII64
उनकी शादी 10 साल की उम्र में ही एक 30 साल के आदमी से हो गई| उनके अपमानजनक पति ने उन्हें मारा और घर से बाहर निकाल दिया| तब वह 20 साल की थीं और 9 महीने की गर्भवती भी थीं| उसी दिन उन्होनें घर के बाहर बने गाय के झोपडे में एक बेटी को जन्म दिया और उसी हालत में कुछ किलोमीटर दूर अपनी माँ के घर चली गई, जहाँ उनकी माँ ने भी उन्हें घर में आने से माना कर दिया|

NII60
उन्हें आज भी याद है कि किस तरह उन्होनें एक नुकीले पत्थर से नाल को काटा था| इस वाकये ने उन्हें अंदर से झींझोर कर रख दिया और उन्होनें खुद्खुशि करने का फ़ैसला कर लिया लेकिन फिर बेटी का भविष्य सोचकर उनका फ़ैसला बदल गया और उन्होनें बेटी को पालने के लिए भीख माँगना शुरू कर दिया|

NII65
कुछ सालों तक भीख माँगने पर उन्हें एहसास हुआ कि ऐसे बहुत से बच्चे हैं जो अनाथ हैं| खुद की दिक्कतों को याद करते हुए उन्होनें फ़ैसला किया कि वह ऐसे बच्चों को गोद लेंगी| और फिर उन्होने धीरे-धीरे बहुत से बच्चों को गोद ले लिया और “अनाथों की माँ” के रूप में उभर गईं|

NII63
अभी तक लगभग 1400 अनाथ बच्चों को पढ़ा-लिखकर, उनकी शादी और उन्हें उनके पैरों पर खड़ा कर चुकी हैं| सब उन्हे “माई” (माँ) कहते हैं और उनमें से आज बहुत बच्चे डॉक्टर और इंजिनियर बन अपने पैरों पर खड़े हो चुके हैं|

Photos Credit : Taken from different Google sites.

Facebook Comments
(Visited 33 times, 1 visits today)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Facebook

SuperWebTricks Loading...
%d bloggers like this: